संदेश

भारतीय मूल के प्रवासियों ने हिंदी की जड़ों को सींचा.....

चित्र
भारतीय मूल के प्रवासियों ने हिंदी  की जड़ों को सींचा -डॉ. राकेश कुमार दुबे (विभागाध्यक्ष , जे एम सी , आई आई एम टी , चौ च सिंह वि) विश्व हिंदी दिवस ( 10 जनवरी) के अवसर पर अध्ययन एवं अनुसंधान पीठ द्वारा आज़ादी का अमृतमहोत्सव को समर्पित अंतरराष्ट्रीय तरंग गोष्ठी   " हिंदी का वैश्विक विस्तार और मूलभूत चुनौतियाँ"   का आयोजन वरिष्ठ प्रोफेसर माला मिश्र , दिल्ली विश्वविद्यालय के संयोजन में आयोजित किया गया। संगोष्ठी में प्रमुख वक्ता थे- सीनियर रेडियो ब्रॉडकास्टर , भाषा एवं संस्कृति सेवी व लेखक पार्थसारथि थपलियाल , डॉ. राकेश दुबे , अध्यक्ष जनसंचार विभाग चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय , डॉ. शैलेन्द्र कुमार संयुक्त सचिव वित्त मंत्रालय , डॉ.विकास दवे , अध्यक्ष-साहित्य अकादमी , मध्यप्रदेश , अध्यक्षता कर रहे थे श्री यन्तुदेव बुधु , अध्यक्ष-हिंदी प्रचारिणी सभा , मॉरीशस संयोजिका प्रोफेसर माला मिश्र ने विश्व हिंदी दिवस की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डालते हुए कहा कि 10 जनवरी 1975 को पहली बार विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन हिंदी प्रचारिणी सभा वर्धा की पहल पर नागपुर में आयोजित किया गया था। सन 2006 में 10 जनवर

कार्यकर्ताओं के निर्माण से ही सशक्त राष्ट्र निर्माण संभव

चित्र
कार्यकर्ताओं के निर्माण से ही सशक्त राष्ट्र निर्माण संभव             भगत सिंह फाउंडेशन के द्वारा पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 105 वीं जयंती के अवसर  पर अंतरराष्ट्रीय तरंग संगोष्ठी का आयोजन किया गया। इसके मुख्य समन्वयक आचार्य चंद्र थे और संयोजिका प्रो.माला   मिश्र थीं।आचार्य चंद्र ने दीन दयाल जी के आदर्शों को अपनाकर सरलता ,  सहजता और राष्ट्र सेवा को ही अपना ध्येय बनाया है।इस संगोष्ठी का केंद्रीय विषय था - ' संस्कृति और संचार : समकालीन सोपान। ' इस संगोष्ठी में   विशिष्ट अतिथि दीनदयाल उपाध्याय के प्रपौत्र सेवामुक्त सेशन जज चंद्रशेखर उपाध्याय ने कहा कि बप्पा का जीवन उद्देश्य अपना निर्माण करना नहीं था वरन सशक्त राष्ट्र निर्माण के लिए कर्मठ कार्यकर्ताओं का निर्माण करना रहा।वह स्वयं संसद में नहीं बैठे लेकिन 15 से अधिक सांसदों का उन्होंने निर्माण किया। संगोष्ठी में इंदिरागांधी जनजातीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो .श्रीप्रकाश मणि त्रिपाठी बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे।उन्होंने दीनदयाल जी के सांस्कृतिक राष्ट्रवाद पर चर्चा की।कार्यक्रम की अध्यक्षता अटल बिहारी वाजपेयी विश्वविद्यालय के कुलपति

शिक्षण अभिवृत्ति/Shikshan Abhivritti/Most Important 50 Questions of Teac...https://youtu.be/8TII7tEPob8

चित्र

मोहनदास नैमिशराय की कहानी आवाजें/हिंदी कहानी/Mohandas Naimishrai ki Kaha...

चित्र

शिक्षण अभिवृत्ति/Shikshan Abhivritti/Most Important 50 Questions of Teac...

चित्र

भारत का भूगोल,भारत का भूगोल महत्वपूर्ण प्रश्न,indian geography,geography of india important question,bharat ka bhugol classes in hindi,bharat ka bhugol classes in hindi for upsc,indian geography by yancha avantar,geography india,indian geography upsc,geography for upsc in hindi,महत्वपूर्ण प्रश्न,indian geography for upsc,geography ncert,ugc net question paper,tgt question paper,pgt question paper,ssc geography question paper,mpsi geography question paper,भूगोल...

चित्र

भारत का भूगोल/महत्वपूर्ण 50 प्रश्न भाग-4/Geography of India Important 50...

चित्र